Hindi Cricket News

IPL 2020: अंपायर की इस बड़ी गलती के कारण जीती सीएसके, कैमरा में हुआ रिकॉर्ड

IPL 2020 का 29वां मुकाबला मंगलवार को सीएसके और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच दुबई में खेला गया जिसे चेन्नई सुपर किंग्स की टीम ने 20 रनों से जीत लिया। हालाँकि जितने अंतर से चेन्नई सुपर किंग्स ने इस मैच में जीत दर्ज की हैं, यह एकतरफा मुकाबला नजर आता हैं, लेकिन असल में यह मैच कहीं ज्यादा रोमांचक था। मैच में सनराइजर्स हैदराबाद की टीम लगातार विकेट गवां रही थी लेकिन बावजूद इसके वे कई बार ऐसी स्थिति में आये जब उन्होंने महेंद्र सिंह धोनी और सीएसके की टीम पर दबाव बनाया।

यहाँ तक की इस दौरान महेंद्र सिंह धोनी भी अपना धैर्य खोते नजर आये और कई बार फिल्डर्स और गेंदबाजों पर अपना गुस्सा जताया। मैच में एक समय ऐसा था जब केन विलियमसन बल्लेबाजी कर रहे थे और उन्होंने ने सीएसके के गेंदबाजों पर पूरी तरह दबाव बनाया हुआ था। हालाँकि 18वें कर्ण शर्मा ने विलियमसन को आउट किया जिसके बाद सीएसके की जीत लगभग पक्की हो चुकी थी। लेकिन इसके बाद राशिद खान ने मात्र 8 गेंदों में 14 रन जड़ दिए जिससे सीएसके की टीम एक बार फिर दबाव में आ गयी।

यह भी पढ़ें:

सनराइजर्स हैदराबाद को अब अंतिम ओवर में 28 रनों की जरुरत थी लेकिन दबाव तब भी दोनों टीमों पर था। क्योंकि यहाँ बल्लेबाजों के पास खोने को कुछ नहीं था और गेंदबाज किसी भी हालत में जीत दर्ज करना चाहते थे। हालांकि इससे पहले ही 19वें ओवर में एक ऐसी घटना हो चुकी थी, जिसने शायद सीएसके की जीत की नीव रखी।

मैच में 19वें ओवर की गेंदबाजी शार्दुल ठाकुर ने की थी, जहाँ उन्होंने ओवर की दूसरी ही गेंद वाइड डाली। शार्दुल ने इसके बाद दूसरी गेंद भी वाइड डाली जो ट्रेमलाइन के बिलकुल करीब से होकर गुजरी। यह असल में एक वाइड गेंद थी, और अंपायर भी इसे वाइड गेंद करार देने ही वाले थे लेकिन अंतिम समय पर उन्होंने अपना निर्णय बदल दिया।

दरअसल अंपायर द्वारा अपना निर्णय लिए जाने से पहले ही महेंद्र सिंह धोनी और शार्दुल ठाकुर इस बात को लेकर जोर दे चुके थे कि यह एक सही गेंद थी, जिसके कारण अंपायर पॉल दबाव में आये और अंतिम समय पर अपना निर्णय बदल दिया। सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान डेविड वॉर्नर इस दौरान डगआउट में बैठे थे और अंपायर के इस निर्णय से थे। इस घटना के बाद अंपायरों से जुड़ा एक और विवाद खड़ा हो गया हैं कि कितनी बार उनके गलत निर्णय ने मैच का पासा पलटा होगा। शायद अंपायर के सही फैसला देने से सनराइजर्स हैदराबाद की टीम इस मैच की विजेता नहीं बन पाती, लेकिन इससे मुकाबला और रोचक जरुर बन सकता था।

इस मैच में महेंद्र सिंह धोनी ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया था और इस बार उन्होंने एक नयी सलामी जोड़ी फाफ डू प्लेसिस और सैम कर्रन को मैदान पर भेजा। हालाँकि यह जोड़ी इतनी सफल नहीं हुई और फाफ डक आउट हो गए लेकिन 31 रनों की विस्फोटक पारी खेली। दोनों खिलाड़ियों के आउट होने के बाद शेन वॉटसन (42) और अम्बाती रायडू (41) ने सीएसके की पारी को सम्भाला और अंत में रवीन्द्र जडेजा की 10 गेंदों में 25 रनों की विस्फोटक पारी की बदौलत टीम ने 167-6 का स्कोर खड़ा किया।

बड़े लक्ष्य का पीछा करने उतरी सनराइजर्स हैदराबाद के सबसे महत्वपूर्ण बल्लेबाज और सलामी जोड़ी डेविड वॉर्नर (9) और जॉनी बेयरस्टो (23) इस मैच में फ्लॉप साबित हुए। हालाँकि इसके बाद केन विलियमसन ने 57 रनों की अर्द्धशतकीय पारी खेलते हुए टीम के लिए जीत का एक मौका जरुर बनाया लेकिन वह भी टीम को जीत दिलाने में कामयाब नहीं हो सके।

चेन्नई सुपर किंग्स की टीम अब IPL 2020 की पॉइंट्स टेबल में 6 अंक अर्जित करते हुए 6वें स्थान पर पहुँच गयी हैं। सीएसके की टीम अब तक 8 मुकाबले खेल चुकी हैं, जिसमे से 5 में उन्हें हार का सामना करना पड़ा हैं जबकि अन्य तीन में उन्होंने जीत हासिल की हैं। चेन्नई सुपर किंग्स का अगला मुकाबला अब 17 अक्टूबर को दिल्ली कैपिटल्स के साथ होगा, जो पॉइंट्स टेबल में इस समय दूसरे स्थान पर काबिज हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button